Uncategorized

नीरज चोपड़ा ने बुडापेस्ट में चल रही वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में जैवलिन थ्रो में गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच दिया, 88.17 मीटर थ्रो के साथ स्वर्ण पदक पर निशाना साधा

नीरज चोपड़ा वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतने वाले पहले भारतीय बन गए हैं। उन्होंने पाकिस्तान के अरशद नदीम को पीछे छोड़ते हुए इतिहास रच दिया। विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2023 में पुरुषों की भाला फेंक में 88.17 मीटर थ्रो के साथ स्वर्ण पदक पर निशाना साधा।

नीरज के साथ फाइनल में भारत के दो अन्य खिलाड़ी डीपी मनु और किशोर जेना भी थे। किशोर 84.77 मीटर के बेस्ट थ्रो के साथ पांचवें स्थान पर और डीपी मनु 84.14 मीटर के बेस्ट थ्रो के साथ छठे स्थान पर रहे।पहला राउंड: नीरज पहले राउंड में कुछ खास नहीं कर सके हैं। उनके प्रयास को फाउल करार दिया गया। डीपी मनु ने 78.44 मीटर दूर भाला फेंका है। पाकिस्तान के अरशद नदीम ने 74.80 मीटर दूर थ्रो किया।

पहला राउंड: नीरज पहले राउंड में कुछ खास नहीं कर सके। उनके प्रयास को फाउल करार दिया गया। डीपी मनु ने 78.44 मीटर दूर भाला फेंका। पाकिस्तान के अरशद नदीम ने 74.80 मीटर दूर थ्रो किया।

दूसरा राउंड: नीरज ने दूसरे राउंड में वापसी की और 88.17 मीटर दूर भाला फेंककर पहला स्थान हासिल कर लिया। दूसरे राउंड के समाप्त होने पर वह शीर्ष पर थे। किशोर जेना ने 82.82 मीटर दूर भाला फेंका। वह पांचवें स्थान पर थे। डीपी मनु 78.44 मीटर के स्कोर के साथ 10वें नंबर पर हैं थे। अरशद नदीम चौथे स्थान पर थे। उन्होंने दूसरे राउंड में 82.81 मीटर दूर थ्रो फेंका।

तीसरा राउंड: नीरज ने तीसरे राउंड में 86.32 मीटर दूर भाला फेंका। पाकिस्तान के अरशद नदीम ने तीसरे राउंड में 87.82 मीटर दूर थ्रो फेंका। भारत के डीपी मनु ने 83.72 मीटर दूर भाला फेंका । यह तीन राउंड में उनका सबसे बेहतर प्रदर्शन है। वहीं, किशोर जेना तीसरे राउंड में फेल हो गए। उनके थ्रो को फाउल करार दिया गया।

चौथा राउंड: नीरज ने चौथे राउंड में 84.64 मीटर दूर थ्रो फेंका । डीपी मनु के थ्रो को फाउल करार दिया गया। किशोर जेना ने 80.19 मीटर दूर थ्रो फेंका। पाकिस्तान के अरशद नदीम ने 87.15 मीटर दूर भाला फेंका। चार राउंड के बाद नीरज पहले, अरशद दूसरे और जर्मनी के जूलियन वेबर तीसरे स्थान पर थे। अब दो राउंड और बचे थे।
पांचवां राउंड: नीरज ने पांचवें राउंड में 87.73 मीटर दूर भाला फेंका। किशोर जेना के पांचवें राउंड के थ्रो को फाउल करार दिया गया। वहीं, डीपी मनु ने पांचवें अटेम्प्ट में 83.48 मीटर का थ्रो फेंका।

छठा राउंड: छठे राउंड में नीरज ने 83.98 मीटर का थ्रो किया। वहीं, किशोर का छठा अटेम्प्ट फाउल रहा। डीपी मनु ने 84.14 मीटर का थ्रो किया। यह उनका अब तक का फाइनल में बेस्ट थ्रो रहा। छठे अटेम्प्ट के बाद नीरज ने डीपी मनु और किशोर जेना को गले लगाया और वह बेहद खुश नजर आए।

क्वालिफाइंग राउंड :नीरज ने शुक्रवार को क्वालिफाइंग दौर में अपने पहले ही प्रयास में 88.77 मीटर भाला फेंककर फाइनल में प्रवेश कर लिया था। वह इस प्रदर्शन के साथ अगले साल पेरिस में होने वाले ओलंपिक के लिए भी क्वालिफाई करने में सफल रहे। यह सत्र का उनका अब तक का और कुल चौथा श्रेष्ठ प्रदर्शन भी रहा था।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *